ये गलियाँ ये चौबारा यहाँ आना न दोबारा | Ye Galiyan Ye Chaubara Lyrics In Hindi | English | Prem Rog (1982)

Rate this post

Ye Galiyan Ye Chaubara Lyrics In Hindi / English / ये गलियाँ ये चौबारा | Prem Rog 1982 | Singer, लता मंगेशकर ये गलियाँ ये चौबारा, Songs From The 80s | Star, Rishi Kapoor, Padmini Kolhapure, Yeh Galiyan Yeh Chaubara Song

गाना – Yeh Galiyaan Lyrics
फिल्म – प्रेम रोग (1982)
गायक – लता मंगेशकर
संगीतकार – लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
गीतकार – संतोष आनंद
कलाकार – ऋषि कपूर, पद्मिनी कोल्हापुरी
निर्देशक – राज कपूर
लेबल – शेमारू

Ye galiyan ye chaubara lyrics in hindi

Ye Galiyan Ye Chaubara Lyrics In Hindi

ये गलियाँ ये चौबारा
यहाँ आना न दोबारा
ये गलियाँ ये चौबारा
यहाँ आना न दोबारा

अब हम तो भऐ परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहीं

ले जा रँग-बिरंगी यादें
हँसने रोने की बुनियादें
अब हम तो भऐ परदेसी

के तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहीं..

मेरे हाथों में भरी-भरी चूड़ियाँ
मुझे भा गई हरी हरी चूड़ियाँ

देख मिलती हैं तेरी मेरी चूड़ियाँ
तेरे जैसी सहेली मेरी चूड़ियाँ

तूने पीसी वो मेहँदी रँग लाई
मेरी गोरी हथेली रचाई
तेरी आँख क्यों लाडो भर आई
तेरे घर भी बजेगी शहनाई

सावन में बादल से कहना
परदेस में है मेरी बहना
अब हम तो भऐ परदेसी

के तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहीं..

आ माँ ऐ मिल ले गले
चले हम ससुराल चले
तेरे आँगन में अपनकल भी सूरज निकलेगा
कल भी पंछी गाएंगे
सब तुझको दिखाई देंगे
पर हम ना नजर आएंगेआँचल में संजो लेना हमको
सपनों में बुला लेना हमको
अब हम तो भए परदेसीके तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहीं..देख तू ना हमें भुलाना
माना दूर हमें है जाना
मेरी अल्हड़ सी अठखेलियां
सदा पलकों बीच बसानाजब बजने लगे बाजे गाजे
जब लगने लगे खाली-खाली
उस दम तू इतना समझना
मेरी डोली उठी है फूलों वालीथोड़े दिन के ये नाते थे
कभी हँसते थे गाते थे
अब हम तो भऐ परदेसीके तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहींये गलियाँ ये चौबारा
यहाँ आना न दोबारा
अब हम तो भए परदेसी
के तेरा यहाँ कोई नहीं
के तेरा यहाँ कोई नहीं..

Song – Ye galiya ye chobara lyrics
Movie – Prem Rog (1982)
Singer – Lata Mangeshkar
Music – Laxmikant Pyarelal
Lyricist – Santosh Anand
Starcast – Rishi Kapoor, Padmini Kolhapure
Director – Raj Kapoor
Label – Shemaroo

Yeh Galiyaan Song Lyrics in English

Yeh Galiyan Yeh Chaubara
Yahan Aana Na Dobara

Ye Galiyan Ye Chaubara
Yahan Aana Na Dobara

Ab Hum To Bhaye Pardesi
Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin

Le Ja Rang Birangi Yaadein
Hansne Rone Ki Buniyadein
Ab Hum To Bhaye Pardesi
Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin..

Mere Haathon Mein
Bhar Bhari Chudiyan
Mujhe Bhaa Gayi
Hari Hari Chudiyan

Dekh Milti Hai
Teri Meri Chudiyan
Tere Jaisi Saheli
Meri Chudiyan

Tune Peesi Woh
Mehandi Rang Layi
Meri Gori Hatheli Rachai

Teri Aankh Kyon
Lado Bhar Aayi
Tere Ghar Bhi
Bajegi Shehnaai

Saawan Mein Badal Se Kehna
Pardes Mein Hai Meri Behna
Ab Hum To Bhaye Pardesi

Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin..

Aa Maan Ae Mil Le Gale
Chale Hum Sasural Chale
Tere Aangan Mein Apna
Bas Bachpan Chhod Chale

Kal Bhi Sooraj Niklega
Kal Bhi Panchhi Gayenge
Sab Tujhko Dikhaai Denge
Par Hum Na Najar Aayenge

Aanchal Mein Sanjo Lena Humko
Sapno Mein Bula Lena Humko
Ab Hum To Bhaye Pardesi

Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin..

Dekh Tu Na Hume Bhulana
Mana Door Hume Hai Jaana

Meri Alhad Si Athkheliyan
Sada Palkon Beech Basana

Jab Bajne Lage Baaje Gaaje
Jab Lagne Lage Khali Khali
Us Dum Too Itna Samajhna
Meri Doli Uthi Hai Phoolon Wali

Thode Din Ke Yeh Naate The
Kabhi Hanste The Gaate The
Ab Hum To Bhaye Pardesi

Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin

Yeh Galiyan Yeh Chaubara
Yahan Aana Na Dobara
Ab Hum To Bhaye Pardesi

Ke Tera Yahan Koi Nahin
Ke Tera Yahan Koi Nahin..

Songs From The 80s
Lata Mangeshkar Songs
Rishi Kapoor Song
Padmini Kolhapure Songs

Faq

ये गलियाँ ये चौबारा, गाना किसने गाया है?

ये गलियाँ ये चौबारा, गीत लता मंगेशकर द्वारा गाया गया है।

ये गलियाँ ये चौबारा, गीत किस फिल्म का है ?

ये गलियाँ ये चौबारा, गीत ‘प्रेम रोग’ फिल्म का है

प्रेम रोग, फिल्म मे कलाकार कोन-कोन है ?

प्रेम रोग, फिल्म मे कलाकार शम्मी कपूर, नन्दा, ऋषि कपूर, पद्मिनी कोल्हापुरे, तनुजा, रज़ा मुराद, ओम प्रकाश’ हैं।

ये गलियाँ ये चौबारा, गीत के बोल किसने लिखे हैं?

ये गलियाँ ये चौबारा, गीत के बोल संतोष आनंद जी ने लिखे है |

Leave a Comment