पंख होते तो उड़ आती रे Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics In Hindi | Sehra (1963) Lata Mangeshkar | Old Is Gold

Rate this post

Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics In Hindi | पंख होते तो उड़ आती रे | Movie, Sehra (1963) | Singer, Lata Mangeshkar | Star, Prashant, Sandhya, Mumtaz, Ulhas | Old Is Gold

गाना – Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics
फ़िल्म – सेहरा – (1963)
गाकार – लता मंगेशकर
गीतकार – हसरत जयपुरी
कलाकार – प्रशांत, संध्या, मुमताज, उल्हास
संगीतकार – रामलाल हीरपन्ना
म्यूजिक लेबल – सारेगामा

Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics In Hindi | Sehra (1963) Lata Mangeshkar | Old Is Gold

Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics In Hindi

पंख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

हो ..
पंख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

आ ..
यादो में खोयी पहुँचि गगन में
पछि बन के सच्ची लगन में
ओ.यादो में खोयी पहुँचि गगन में
पछि बन के सच्ची लगन में

दूर से देखा मौसम हसीं था
दूर से देखा मौसम हसीं था
आनेवाले तू ही नहीं था
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

पंख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

आ..
किरणी बन के बाहें फैलाई
आस के बादल पे जाके लहराई
किरणी बन के बाहें फैलाई
आस के बादल पे जाके लहराई

झुल चुकि में वादे का झूला
झुल चुकि में वादे का झूला
तू तो अपना वादा ही भुला
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

पंख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

ओ..
पख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे

पंख होते तो उड़ आती रे
रसिया ओ जालिमा
तुझे दिल का दाग दिखलाती रे
आ..आ.. आ..

Song – Pankh Hote To Ud Aati Re
Movie – Sehra – (1963)
Singer – Lata Mangeshkar
Lyrics by – Hasrat Jaipuri
Star Cast – Prashant, Sandhya, Mumtaz, Ulhas
Music Director – Ramlal Heerapanna
Music Label – Saregama

Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics In English

Pakh hote to ud aati re
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re

Pakh hote to ud aati re
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re

Yaado me khoyi pahunchi gagan me
Pachhi ban ke sachchi lagan me
Yaado me khoyi pahunchi gagan me
Pachhi ban ke sachchi lagan me

Dur se dekhaa mausam hasi thaa
Dur se dekhaa mausam hasi thaa
Aanevaale tu hi nahi thaa

Dur se dekhaa mausam hasi thaa
Aanevaale tu hi nahi thaa
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re

Pakh hote to ud aati re
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re

Kirane ban ke baahe phailaayi
Aas ke baadal pe jaake laharaayi
Kirane ban ke baahe phailaayi
Aas ke baadal pe jaake laharaayi

Jhul chuki mai vaade kaa jhulaa
Jhul chuki mai vaade kaa jhulaa
Tu to apna vaadaa hi bhulaa
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re

Pakh hote to ud aati re
Rasiyaa o zaalimaa
Tujhe dil kaa daag dikhalaati re
Pakh hote to ud aati re
Rasiyaa o zaalimaa

Tujhe dil kaa daag dikhalaati re
Pakh hote to ud aati re..

Pankh Hote To Ud Aati Re Lyrics FAQ

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गाना किसने गाया है ?

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गानालता मंगेशकर, ने गाया है।

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गाना किस फिल्म का है ?

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गाना सेहरा, फिल्म का है।

सेहरा, फिल्म मे कलाकार कोन-कोन है ?

सेहरा, फिल्म मे कलाकार संध्या, प्रशांत, मनमोहन कृष्ण, ललिता कुमारी, ललिता पवार,बाबूराव पेंढारकर, बब्लू, उल्हास, केशवराव दाते, जीतेंद्र, मुमताज, एम. राजन, हैं।

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गाने के बोल किसने लिखे हैं ?

पंख होते तो उड़ आती रे रसिया ओ जालिमा, गाने के बोल हसरत जयपुरी, ने लिखे हैं |

सेहरा, फिल्म के निर्देशक कौन है ?

सेहरा, फिल्म के निर्देशक वी. शांताराम, है|

सेहरा, फिल्म कब रेलीज़ हुई थी ?

सेहरा,फिल्म 1963, को रेलीज़ हुई थी |

Leave a Comment