मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का Mere Man Ki Ganga Lyrics In Hindi – Sangam (1964) Mukesh

Rate this post

Mere Man Ki Ganga Lyrics In Hindi मेरे मन की गंगा Movie, Sangam (1964) Singer, Mukesh | Star, Raj Kapoor, Vyjayanthimala, Rajendra Kumar | Old Is Gold

गाना – Mere Man Ki Ganga Lyrics
फ़िल्म – संगम (1964)
गायकार – मुकेश चंद माथुर (मुकेश)
गीतकार – शैलेन्द्र
कलाकार – राज कपूर, वैजयंती माला, राजेंद्र कुमार
संगीतकार – जयकिशन, पांचाल, शंकर सिंह
म्यूजिक लेबल – सारेगामा

Mere Man Ki Ganga Lyrics In Hindi - Sangam (1964) Mukesh

Mere Man Ki Ganga Lyrics In Hindi

मेरे मन की गंगा और
तेरे मन की जमुना का
बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं

मेरे मन की गंगा और
तेरे मन की जमुना का
बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
अरे बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
नहीं

कितनी सदियां बीत गयी हैं
हाय तुझे समझाने में
मेरे जैसा धीरज वाला
है कोई और ज़माने में

दिल का बढ़ता बोझ
कभी कम होगा की नहीं
बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं

मेरे मन की गंगा और
तेरे मन की जमुना का
बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
अरे बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
जा जा ..

दो नदियों का मेल अगर
इतना पावन कहलाता है
क्यों न जहां दो दिल मिलते हैं
हर मौसम है प्यार का
मौसम होगा की नहीं

बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
मेरे मन की गंगा और
तेरे मन की जमुना का

बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
अरे बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
नहीं

तेरी खातिर मैं तरसा
यूँ जैसे धरती सावन को
राधा राधा एक रतन है
सांस की आवन जावन को
पत्थर पिघले

बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं
मेरे मन की गंगा और

तेरे मन की जमुना का
बोल राधा बोल संगम
होगा की नहीं अरे
बोल राधा बोल
संगम होगा की नहीं

जाओ न क्यों सताते हो! होगा

Song – Bol Raadha Bol Sangam Hoga Ke Nahin
Movie – Sangam (1964)
Singer – Mukesh Chand Mathur (Mukesh)
Lyrics by – Shailendra
Star Cast – Raj Kapoor, Vyjayanthimala, Rajendra Kumar
Music Director – Jaikishan, Panchal, Shankar Singh
Music Label – Saregama

Bol Raadha Bol Sangam Hoga Ke Nahin Lyrics in English

Mere man ki ganga
Aur tere man ki jamuna ka
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Mere man ki ganga
Aur tere man ki jamuna ka
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin
Are bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Nahin, kabhi nahin!

Kitani sadiyaan beet gayee hain
Haay tujhe samajhaane men
Mere jaisa dhiraj vaala
Hai koi aur zamaane men

Dil ka badhata bojh
Kabhi kam hoga ki nahin
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Mere man ki ganga
Aur tere man ki jamuna ka
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin
Are bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Jaa jaa!

Do nadiyon ka mel agar
Itana paavan kahalaata hai
Kyon na jahaan do dil milate hain,
Swarg vahaan bas jaata hai

Har mausam hai pyaar ka
Mausam hoga ki nahin
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Mere man ki ganga
Aur tere man ki jamuna ka
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin
Are bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Nahin, nahin nahin!

Teri khaatir main tarasa yun
Jaise dharati saavan ko
Raadha raadha ek ratan hai
Saans ki aavan jaavan ko

Patthar pighale, dil ye
Tera nam hoga ki nahin
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Mere man ki ganga
Aur tere man ki jamuna ka
Bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin
Are bol raadha bol
Sangam hoga ki nahin

Jaao na kyon sataate
Ho! Hoga, hoga, hoga!

Bol Raadha Bol Sangam Hoga Ke Nahin Lyrics FAQ

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाना किसने गाया है ?

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाना मुकेश चंद माथुर (मुकेश), ने गाया है।

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाना किस फिल्म का है ?

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाना संगम, फिल्म का है।

संगम, फिल्म मे कलाकार कोन-कोन है?

संगम, फिल्म मे कलाकार राज कपूर, राजेन्द्र कुमार, वैजयंतीमाला, इफ़्तेख़ार, राज मेहरा, नाना पालसिकर, ललिता पवार, हरि शिवदासानी, अचला सचदेव, हैं ।

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाने के बोल किसने लिखे हैं ?

मेरे मन की गंगा और तेरे मन की जमुना का, गाने के बोल शैलेन्द्र (शंकरदास केसरीलाल), ने लिखे हैं |

संगम, फिल्म के निर्देशक कौन है?

संगम, फिल्म के निर्देशक राज कपूर. कश्यप, है |

संगम, फिल्म कब रिलीज़ हुई थी?

संगम, फिल्म 18 जून, 1964, को रिलीज़ हुई थी |

Leave a Comment